" "

Tagged: Mastaram Ki Sex Kahaniya

धीरे-धीरे लंड अंदर चला गया और फिर

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम गौतम है ये गर्मियो के महीने की बात है शायद जून या जुलाई की है। मेरे घर के सभी लोग पापा, मम्मी और छोटा भाई गावं गये हुए थे और घर पर में लगभग 18 दिनों के लिए अकेला था।

सील बंद चूत वाली लड़की के जीवन की घटना

हेल्लो पाठको आज मै सील बंद चूत वाली लड़की के जीवन की घटना लेकर यह कहानी उन लोगों को ज्यादा पसंद आयेगी जो छोटी लड़कियों मे रूचि रखते है। मै बता दूँ कि में सिधौना...

मम्मी को चुत में अंगुली डाल कर हिलाते देखा फिर जो हुआ पढ़े

माँ बोली कि जान मेरा पानी निकलने वाला है प्लीज पी जाओ। फिर मैंने बोला कि हाँ मादरचोद मुझे पीना है निकाल और उनकी चूत को चाटने लगा और फिर माँ ने अपना पूरा पानी निकाल दिया और मैंने पूरा पी लिया। फिर माँ ने शरमाते हुए पूछा कि जान पानी कैसा लगा?

आंटी की चूत आकार में बहुत बड़ी और गीली भी बहुत थी

दोस्तों यह मेरी सच्ची कहानी है अंकल ने मेरी गांड में अपना लंड डाला और मैंने अपना लौड़ा आंटी की चुत में डाला और खूब चुदाई किया अंकल ने मेरी गांड में वीर्य गिराया और मैंने आंटी की चुत में वीर्य झाड़ दिया |

मेरा पापा ने अपना मोटा लौड़ा मेरी चूत में डाला

मेरा नाम अनुपमा है. मेरी उम्र लगभग 24 वर्ष की हो चुकी है. मेरी शादी एक इंजीनियर से हुयी है. लेकिन मैं आपको अपनी पहली चुदाई की कहानी सूना रही हूँ. तब मैं मैं अपने...

मौसी की चूत की गर्मी अपने मोटे लंड से शांत की

मौसी की चूत की गर्मी अपने मोटे लंड से शांत की जब मौसी की चूत में मेरा मोटा लौड़ा गया तो मौसी चिहुक गयी बोली तेरा इतना मोटा कब हो गया मै बोला मौसी पहल मज़ा लो बाद में बताऊंगा |

जिम वाली राधिका की चुदाई स्टोरी

राधिका गाण्ड मराने में एक्स्पर्ट थी। मेरा लण्ड मानो चूत में पेल रहा हो … सटासट चल रहा था। राधिका भी मस्त हो कर तबियत से मरवा रही थी। गाण्ड की दीवार भी लण्ड को लपेट रही थी

मस्ती की आग में वो बारिश की बुँदे

अब मेरे लंड की गर्मी उस पर चढ़ चुकी थी। तभी उसने मेरे लंड को जकड़ लिया और बोली कि  बेबी अब ना तड़पाओ मुझे, तो फिर मैंने कहा कि यह तो कब से तैयार खड़ा है जान।

चाची को गाभिन किया वो भी चाचा की मर्जी से

तुम्हे नहीं पता प्रदीप तो बहुत बड़ा चुदक्कड़ है और यह बहुत ही अच्छी तरह से चोदता है इसने मुझे भी अपनी चुदाई से पूरी तरह संतुष्ट कर दिया है और फिर दोस्तों वो इतना कहकर दोबारा से ज़ोर ज़ोर से हंसने लगी और चाचा भी उनको देखकर हंस रहे थे, लेकिन में एकदम सुन्न पड़ गया था।

आधुनिक विचारो वाला मेरा परिवार

मैं भी पापा की तरह कपड़े खोल कर मम्मी के ऊपर चढ़ गया और फ़ौरन मम्मी की जीन्स उतारकर उनकी चिकनी चूत को मुँह में लेकर ज़ोर – ज़ोर से चूसने लगा.. !! यह देख कर, मेरी बहन ने भी अपनी पैंटी उतार फेंकी और पापा के मुंह के ऊपर बैठ गई।

लता चाची की चुत बजा डाली

हेलो दोस्तों मेरा नाम अंकित है और में गाज़ियाबाद का रहने वाला हूँ। ये मेरे पहली कहानी है लेकिन ये कहानी आपको बहुत गरम कर देगी। ये मेरी जिन्दगी की असली कहानी है। ये...