Tagged: हब्शी लौड़ा

प्यार किये बिना चुदाई का मजा लेते रहो

प्यार किये बिना चुदाई का मजा लेते रहो, उसको सहलाते हुये उसके कपड़े उतार दिये, अपने भी सारे कपड़े निकाल कर मैं उसके सामने नंगा खड़ा हो गया मुझे नंगा देखकर वो टेबल पर उठकर बैठ गई, अपने हाथों से उसने मेरा लंड थाम लिया और उससे खेलने लगी थोडी देर लंड सहलाने के बाद उसने उसे मुँह में भर लिया किसिंग के दौरान जब आपका लंड तन गया तब मन में सेक्स की भावना ने भी जन्म ले लिया

पड़ोस के एक लडके से खूब चुदवाया

इन सभी एपिसोड्स ने मेरे सेक्स की इच्छा तीव्र कर दी काश मैं पहले से ही चोकन्ना रहता तो फल को कोई दूसरा नहीं चखता लेकिन जो लिखा था उसे मिटाया तो नहीं जा सकता था सुधा जैसी मस्त जवानी को तो जूठा होना ही था इसमें सुधा की कोई गलती नहीं थी मेरी गलती थी

भाभी के साथ एक दमदार चुदाई की इच्छा

दोस्तों यह कहानी भाभी की दमदार चुदाई से सम्बंधित है आप लोग का मन करेगा की अभी चुदा लो चोद लो यह कहानी पढ़ने के बाद आप अपनी प्रतिक्रिया जरुर दें |

मै और मम्मी एक साथ तीन लौड़ो से चुदी

हेल्लो यह मेरी और मम्मी की ग्रुप में चुदाई की कहानी है आशा करती हूँ आप सभी लोगो को पसंद आएगी मेरी कहानी अगर कुछ कहना है तो कमेंट में लिखे मै जवाब दूंगी |

मेरी सगी मौसी ज्योति की गुलाबी चूत

मैने चूत मे क्रीम लगाया फिर से धक्का दिया तो मौसी फिर से उहहहहहहह आहहहहहहहहह उहहहहह उईईईईईईईईईई सससस ऊअईअईअईअई की आवाजे करने लगी वो दर्द से तड़फ रही थी- निकाल लो प्लीज.. मैं मर जाउंगी.. अहह.. अहह.. ऊओह्ह्ह्ह्ह मुझे मार ही डालोगे क्या?

आपने दो – दो देवर के साथ सामूहिक चुदाई

एक मेरे मुँह में तो, एक मेरी चूत में झड़ गया और में कितनी बार झड़ी थी मुझे याद नहीं है और उस रात हमने 3 बार और चुदाई की और सुबह तक मेरी चूत फूल गई और बूब्स पर उंगलीयों के निशान पड़ गये थे ।

माँ बेटी ने एक साथ कइयो से चुदवाया

वह सिर्फ मम्मी की चूत और गांड में आदर बाहर होने वाले लम्बे लम्बे लंड देख कर ताज्जुब मान रही थी और सोचने लगी कि अगर यही लंड मेरी चूत में डाले जायेंगे तो क्या होगा।

मेरी माँ सेक्सी माल है मै पटाकर एक बार चोद चुका हूँ

मैंने माँ से पूछा कि माँ आपने पापा से गांड क्यों नहीं मरवाई? तो माँ बोली कि तेरे पापा को पसंद नही है। फिर मैंने पूछा कि माँ आपको गांड मरवाना पसंद है? तो माँ बोली कि पसंद है इसलिए तो तुझसे गांड मरवा रही हूँ।

धीरे-धीरे लंड अंदर चला गया और फिर

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम गौतम है ये गर्मियो के महीने की बात है शायद जून या जुलाई की है। मेरे घर के सभी लोग पापा, मम्मी और छोटा भाई गावं गये हुए थे और घर पर में लगभग 18 दिनों के लिए अकेला था।

मेरे दो सौतेले भाइयो ने खूब जमकर चोदा

रवि बोला आपने ऐसा क्यों किया, मैं वंदना को चोदने वाला था, मैने पहले इसका चूत फाड़ना चाहता था, तभी तो मैने बहाना बना के वापस आ गया. अंकित बोला की चल कोई बात नही तुम गांड ही मार लो, मैने तो चूत का भोसड़ा बना दिया

मेरी काव्या दी की चुदाई भाग-2

मेने दी कि चुत पे रख दिया और चुत को सहलाने लगा। दी अब मछली की तरह छटपटा रही थी। मेने चुत में एक उंगली डाली तो दी नीचे ज़ुक गई तो मैने उनकी चूचियो को अपने एक हाथ से पकड़ी और वापस उठाया और दूसरे हाथ से चुत में उंगली करना शूरु कर दिया।