बॉयफ्रेंड का मोटा लंड मेरी चूत फाड़ दिया

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम शीतल है और में देहरी ऑन सोन, बिहार की रहने वाली हूँ। अन्तर्वासना स्टोरी डॉट कॉम पर यह मेरी पहली कहानी आप लोगो से शेयर कर रही हूँ | बॉयफ्रेंड के साथ चुदाई, बॉयफ्रेंड का मोटा लंड मेरी चूत फाड़ दिया, बॉयफ्रेंड ने गांड में लंड डाला, बॉयफ्रेंड ने सील तोड़ी, पहली चुदाई बॉयफ्रेंड के साथ, बॉयफ्रेंड के साथ रात गुजारी, बॉयफ्रेंड ने रात भर मेरी चूत की मरम्मत की, बॉयफ्रेंड से सेक्स सम्बन्ध बनायीं, बॉयफ्रेंड ने प्रेग्नेंट किया | यह स्टोरी मेरी और मेरे बॉयफ्रेंड के बीच चुदाई की है। अब में आपको ज्यादा बोर ना करते हुए सीधी अपनी स्टोरी पर आती हूँ, मेरा फिगर साईज 36-32-36 है और में दिखने में गोरी हूँ। अब में आपको मेरे बॉयफ्रेंड के साथ मेरे पहले अनुभव के बारे में बताने जा रही हूँ।

ये बात 3 साल पहले की है, जब में 20 साल की थी। में और मेरा फ्रेंड अमर हम घूमने गये थे। मुंबई के पास ही एक जगह है जहाँ देवी जी का मंदिर है, हम बहुत बार वहाँ गये थे, लेकिन कभी मंदिर नहीं जाते थे। मंदिर के पास ही में एक डेम था, जहाँ कोई नहीं आता था। अब हम वहाँ जाकर बैठ जाते थे और बातें करते, मस्ती करते थे। हम कई बार ऐसे ही घूमने निकल जाते थे।

फिर सर्दी का टाईम आया हम सुबह 6 बजे स्कूटी पर वहाँ जाने के लिए निकले। अब जाते वक्त बहुत ठंड थी और स्कूटी चलाते-चलाते हमारे हाथ जम गये थे। हम कई बार रास्ते में रुके थे। अब वहाँ पहुँचते ही हम एकदम शॉक हो गये, वहाँ इतना ज़्यादा कोहरा था कि दूर-दूर तक कोई आदमी दिखाई ना दे। हमने ऐसा नज़ारा कभी नहीं देखा था, अब में और अमर बहुत ख़ुश हो गये। फिर हम स्कूटी डेम के ऊपर ले गये और स्टैंड पर खड़ी करके बैठ गये, अब चारो तरफ कोहरा था।

फिर अमर ने अपने फोन में रोमेंटिक गाने चालू कर दिए। अब उसे ठंड में ऐसा क्या नशा चढ़ा क्या पता? अब अमर स्कूटी पर मेरे पीछे बैठा था और में आगे बैठी थी तो वो मुझे पीछे से पकड़ कर बैठा था। अब रोमेंटिक गाने और कोहरा, वो समा ही कुछ अलग था। अब अमर के लिप मेरे लिप के एकदम नज़दीक थे।

अब हम दोनों एक दूसरे की गर्म-गर्म साँसे महसूस कर सकते थे, वो एकदम हसीन नज़ारा था। अब हम ऐसे ही बिना कुछ बोले आधे घंटे तक बैठे रहे। फिर एकदम से अमर ने अपने लिप मेरे लिप के ऊपर रखे और हमने हमारा पहला किस किया, एकदम फिल्मी स्टाइल था। फिर हमने 10 मिनट तक स्मूच किया और फिर हमें किसी आदमी के आने की आवाज़ आई, तो हमने किस तोड़ दिया।

फिर हम ऐसे ही दो तीन बार वहाँ गये और किस किया, लेकिन सिर्फ़ स्मूच पर कहाँ बात रुकनी थी। अब हम थोड़ा आगे बढ़े और अब स्मूच के साथ-साथ वो ऊपर से मेरे बूब्स दबाता और में भी ऊपर से उसकी पेंट पर हाथ फेरती थी। फिर एक दिन मैंने एक चैन वाला टॉप पहना था और मैंने जानबूझ कर ऐसा टॉप पहना था ताकि अमर कुछ करे।

फिर जब हम वहाँ गये तो अमर किस करते-करते मेरे बूब्स ऊपर से ही दबा रहा था। फिर उसने अचानक से मेरी चैन खोली और अपना हाथ अंदर डालने लगा, तो मैंने भी उसे नहीं रोका और वो मेरी ब्रा के ऊपर से मेरे बूब्स दबाने लगा। फिर उसने पीछे से मेरी ब्रा का हुक खोल दिया, तो अब मेरे बूब्स ढीले पड़ गये।

फिर उसने मेरे बूब्स अपने हाथ में लिए और उन्हें दबाने लगा। अब मुझे बहुत मस्त लग रहा था और यह सब मेरी स्कूटी पर स्मूच करते-करते ही चल रहा था। फिर मैंने किस तोड़ा और अमर की तरफ मुँह करके बैठ गयी। मैंने फिर से उसे किस करना शुरू किया और वो फिर से मेरे बूब्स दबाने लगा।

अब में उसकी पेंट के ऊपर से ही हाथ फैर रही थी और फिर मैंने धीरे से उसकी पेंट का बटन और चैन खोली और अपना हाथ उसके लंड पर उसकी अंडरवियर के ऊपर से फैरने लगी। अब वो एकदम मस्त हो गया था और उसका मस्त बड़ा और मोटा लंड था। आप ये कहानी अन्तर्वासना स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

फिर मैंने अपना हाथ उसकी अंडरवियर में अंदर डाला और उसके लंड को पकड़ लिया, तो उसने एकदम से किस करना बंद किया और अपनी आँखें बंद कर ली और मेरे बूब्स को ज़ोर-जोर से दबाया, वो पहली बार था जब किसी ने मेरे नंगे बूब्स दबाए थे और मैंने किसी मर्द का लंड अपने हाथ में लिया था।

अब अमर एकदम मस्त हो चुका था। फिर उसने मेरा हाथ पकड़ा और मुझे डेम के नीचे नदी किनारे ले गया। फिर उसने वहाँ मेरा टॉप ऊपर किया और मेरे बूब्स को देखकर बोला कि शीतल आई लव यू और फिर उसने मेरा एक बूब्स अपने मुँह में लिया और चूसने लगा, कितनी मस्त फिलिंग थी वो।

अब वो मेरे निपल को चूसने लगा और दूसरे हाथ से मेरे दूसरे बूब्स को दबाने लगा। फिर उसने ज़ोर से मेरे निपल को काटा तो में ज़ोर से आह्ह्ह्ह चिल्लाई, फिर उसने मेरी तरह देखा और एक स्माइल देकर फिर से दूसरा बूब्स चूसने लगा। फिर मैंने उसका मुँह ऊपर किया और उसे किस करने लगी।

फिर मैंने अपना हाथ उसकी पेंट के अंदर डाला और उसका लंड पूरा बाहर निकाल दिया। उसका बहुत बड़ा लंड था। अब उसका लंड हाथ में लेते ही उसके मुँह से भी आअहह की आवाज़ आने लगी थी। अब में उसके लंड की स्किन ऊपर नीचे करने लगी, तो अब उसे बहुत मज़ा आ रहा था। अब वो बार-बार आवाज़ें निकालने लगा और बार-बार कहने लगा कि ओह शीतल आई लव यू सो मच, ओह फुक।

अब में और ज़ोर से उसका लंड हिलाने लगी और अब वो और सिसकियों भरी आवाज़ में कहने लगा डू डू और कर यस, ओह कितना अच्छा लग रहा है यस डू इट, ओह शीट, आई लव यू सो मच और यह बोलते ही उसके लंड से सफेद पानी छूट गया, जो पूरा ज़मीन पर गिर गया और मेरे हाथ पर भी गिर गया। फिर उसके बाद हम वहाँ से निकल गये और हमारा रिश्ता अब उस दिन से गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड का स्टार्ट हो गया था।

फिर एक बार अमर ने मुझे मेरे नीचे शेव करके आने को बोला, तो में समझ गयी कि वो मुझे नीचे टच करने वाला है, अब में मस्त क्लीन शेव करके गयी। फिर हम जैसे ही वहाँ गये तो अमर ने मेरा टॉप पूरा निकाल दिया और मेरे बूब्स को चूसने लगा और दबाने लगा। अब में भी उसके लंड को बाहर निकाल कर रगड़ने लगी थी।

फिर वो मेरी पेंट के ऊपर से ही मेरी चूत पर हाथ फैरने लगा, क्या बताऊँ कैसी फिलिंग थी वो? फिर उसने मेरी पेंट खोली और मेरी पेंटी के ऊपर से ही मेरी चूत पर हाथ फैरने लगा और मेरी चूत के पॉइंट पर अपना हाथ फैरने लगा। फिर उसने अपना एक हाथ मेरी पेंटी के अंदर डाला और मेरी चूत को अपने हाथ से रगड़ने लगा।

पहली बार किसी लड़के ने मेरी चूत को टच किया था। अब मुझे बहुत मस्त लग रहा था, अब में मदहोश होती जा रही थी। अब अमर मेरी चूत को और चूत के दाने को ज़ोर-ज़ोर से रगड़ने लगा था, अब में आअहह उफफफफ्फ़ आअहह की आवाज़ें निकाल रही थी। आप ये कहानी अन्तर्वासना स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

फिर उसने अचानक से अपनी एक उंगली मेरी चूत के अंदर डाली और में एकदम से चिल्ला उठी आअहह फुक मी, तो उसने मुझे स्मूच करना स्टार्ट कर दिया ताकि कोई मेरी आवाज़ ना सुन सके। फिर उसने धीरे-धीरे अपनी उंगली अंदर बाहर करना शुरू कर दिया। अब में एकदम मदहोश हो चुकी थी और इसी दौरान में अमर के लंड को भी हिला रही थी।

अब मुझे बहुत अच्छा लग रहा था और साथ ही दर्द भी हो रहा था। फिर अचानक से मेरी पूरी बॉडी में करंट सा दौड़ गया और मैंने अपना पानी छोड़ दिया और अमर ने भी अपना पानी छोड़ दिया, वो फिलिंग बहुत ही मस्त होती है। फिर हम कई बार ऐसे वहाँ जाकर ऐसे ही मजे करते थे या कहीं और भी किसी गार्डन में जहाँ कोई नहीं आता हो। अब हम ऐसे कई दिनों तक ओपन में करते रहे ।।

  • ए के एम

    मेरे पढ़ने में शायद कुछ कमी रह गयी कि मुझे चूत के फ़टने का प्रसंग नज़र नहीं आया !
    वैसे मेरे ज्ञान के अनुसार आज तक न तो कोई चूत “फटी” है किसे लण्ड के द्वारा और न ही फटेगी।
    और फटे भी कैसे ?
    जो चूत 5-8 किलो का हट्टा-कट्टा बच्चा निकाल देती है
    वो बच्चा जो करीब 9 से 12 इन्च तक “चौड़ा” और लगभग 12 इन्च से 18 इन्च तक लम्बा होता है
    तो बताईये क्या औकात है किसी मानवीय लण्ड की जो प्रायः 5 इन्च से 7 इन्च लम्बा और डेढ़ से अढ़ाई इन्च मोटा(चौड़ा) होता है ?
    9/10 इन्च लम्बा ?
    3/4/5 इन्च मोटा ?
    यह सब कहानियों में होता है या फ़िर फ़ेसबूक पर
    जैसे सलमान खान या रजनीकान्त हाथी को सूंड से पकड़ घुमा कर 5/10 मील दूर फ़ैंक देते हैं
    सप्रेम
    सर्व चूत सम्भोग उत्सुक
    एकल-सम्भोग विशेषज्ञ
    ए के एम

Terms of service | Privacy PolicyContent removal (Report Illegal Content) | Feedback