" "

अपनी चाची के बच्चे का मै बाप बन गया

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम जिगर है और मेरी फेमिली काफ़ी बड़ी है। मेरे 5 चाचा है और 2 बुआ है, बिज़नेस की वजह से हम दिल्ली में रहते है और बाकी के लोग 100 किलोमीटर दूर गाँव में रहते है। मेरे छोटे चाचा अपनी फेमिली के साथ दूसरे शहर में रहते है, मेरी चाची की उम्र 32 साल है, लेकिन अगर आप उसे देखोगे तो सिर्फ़ उसे 25-26 साल की बताओगे।

मेरी चाची है ही इतनी मस्त और मेरी चाची के जिस्म का हर हिस्सा बड़ा ही प्यारा और सेक्सी है। उनका फिगर अच्छी – अच्छी हिरोईन से भी जबरदस्त है। मेरी चाची के चूचे बिल्कुल रबड़ की तरह है और बहुत ही गोरे है, मेरी चाची का जिस्म देखकर सब मेरे चाचा से जलते है कि इसे ये चिकनी कहाँ से मिली?

मेरी चाची के दो बच्चे है, एक 10 साल का और एक 8 साल का है। मेरी चाची ने अपने आपको इतना मैनटेन किया है कि लोग समझते है कि वो कॉलेज जाती है। मेरे चाचा चेन्नई में जॉब करते है और 2 महीने में घर आते है।

अब में जब भी चाची को देखता था तो मेरा ये कमबख्त लंड काबू में नहीं रहता था और फिर मुझे बाथरूम में जाना पड़ता और मुठ मारनी पड़ती थी। मेरी चाची के नाम से मेरा लंड इतना तन जाता था जैसे लोहे का हो। चाची मुझसे थोड़ी हँसी मज़ाक भी करती थी बस नॉर्मल ही, उसके नर्म होंठ बिल्कुल पिंक कलर के है और उसके बूब्स बहुत सुन्दर है।

मैंने एक दो बार चाची को साड़ी चेंज करते हुए भी देखा था बस ब्लाउज और पेटीकोट में, उनकी कमर और उनकी नाभि ऐसी है कि चबा जाने का मन करता है। में उनके घर छुट्टी में गया था, फिर हम सबने खाना खाया और फिर सोने की तैयारी करने लगे।

अब हम सब एक कमरे में सोने का प्लान बना रहे थे, तो चाची बोली कि यहाँ दो बेड है एक पर तुम और सोनू सो जाओ और एक पर में और इशिका सो जाते है, तो बच्चे सो गये। अब हम टी.वी देख रहे थे, तो तब टी.वी पर टाइटैनिक मूवी आ रही थी। फिर टाइटैनिक मूवी का वो पैंटिंग वाला सीन आया, तो मैंने कहा कि हम तो यहाँ ग़लत आ गये हमे तो दूसरे देश में पैदा होना था, तो चाची बोली कि क्यों?

तो में बोला कि वहाँ कोई किसी को कुछ नहीं कहता जिसका जो मन करता है वो वही करता है। तो चाची बोली कि ये हिरोईन कौन है? तो में बोला कि ये कटे विंसलेट है ये बहुत सुंदर है, तो चाची बोली कि इतनी भी सुंदर नहीं है, तो में बोला कि बताओ किससे तुलना करूँ? तो चाची बोली कि किसी से भी, तो में बोला कि चलो आपको सब सुंदर कहते है तो आपसे ही तुलना करते है।

तो वो बोली कि ओके, तो में बोला कि उसके बाल देखो बिल्कुल भूरे और कितने मुलायम है? तो वो बोली कि मेरे बाल देखो, तो मैंने उनके बाल को टच किया, वो भी काफ़ी सिल्की थे तो में बोला कि उसकी आँखें देखो उसके होंठ देखो, तो चाची बोली कि वो मेकअप करती है और में मेकअप नहीं करती, अच्छा मेरे होंठो को अपनी उंगली से टच करो, तो मैंने चाची के होंठो पर अपनी उंगली फैरी तो क्या मुलायम और चिकने होंठ थे?

फिर में काम की बात पर आया कि उसका फिगर देखो कितना मस्त है? तो चाची बोली कि में उससे पतली हूँ और मेरा वजन भी 55 किलोग्राम है, तो में बोला कि नहीं आपका वजन ज़्यादा है, तो वो बोली कि नहीं। तो में बोला कि चलो आपका वजन नाप लेते है, तो वो बोली कि वजन किससे नापोगे?

तो में बोला कि अब तो मान लो वो हिरोईन आपसे सेक्सी है, तो वो बोली कि ओके मुझे अपनी गोदी में उठाकर देखो कि में भारी हूँ या नहीं।  अब मुझे तो बस यही चाहिए था तो मैंने उनकी गांड के चारो तरफ अपने हाथों का सर्कल बनाया और उन्हें ऊपर उठा दिया, वो सच में 50 किलोग्राम के आस पास थी मैंने अनुमान लगाया था। आप यह कहानी अन्तर्वासना स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है l

फिर मैंने उन्हें इस तरह से नीचे उतारना शुरू किया कि उनकी बॉडी मेरी बॉडी से रगड़ खाए। अब उनके बूब्स मेरी छाती से चिपके हुए थे, अब उनका चेहरा मेरे चेहरे के बिल्कुल पास था, बस कुछ इंच की दूरी पर था। फिर ना जाने मुझमें कहाँ से हिम्मत आई कि मैंने अपने गर्म होंठ उनके होंठ से जोड़ लिए और उनके होंठो को चूसने लगा, तो वो पहले तो थोड़ी कसमसाई और अपने होंठ हटा लिए।

फिर मैंने उनसे सॉरी कहा और उन्हें नीचे उतार दिया, तो वो कुछ नहीं बोली और बैठकर मूवी देखने लगी। फिर अचानक से में बोल पड़ा कि कटे विंसलेट कुछ ख़ास नहीं है, तो उन्होंने मेरी तरफ देखा तो में थोड़ा मुस्कुरा दिया।

कहानी जारी है ….. आगे की कहानी पढने के लिए निचे लिखे पेज नंबर पर क्लिक करे …..

Pages: 1 2

Terms of service | Privacy PolicyContent removal (Report Illegal Content) | Feedback