सेक्सी भाभी की सेक्सी स्टाइल

हैल्लो दोस्तों, में मयंक कोलकाता का रहना वाला हूँ और में आज आप सभी को अपनी एक सच्ची कहानी सुनाने जा रहा हूँ जिसमें मैंने अपनी पड़ोसन सेक्सी भाभी को बहुत मज़े लेकर चोदा। दोस्तों मेरे पड़ोस में एक नया जोड़ा किराए पर रहने आया।

उस मकान में बस वो दोनों पति पत्नी अकेले ही रहते थे और उस भाभी का पति एक कंपनी में नौकरी करता था और वो भाभी दिखने में बहुत ही मस्त थी। उसके फिगर का आकार 34-30-36 था। दोस्तों उसको पहली बार देखते ही मेरा दिल उस पर आ गया था और में उसकी तरफ बहुत आकर्षित था।

में हमेशा उसको आते जाते किसी ना किसी बहाने से देखता रहता था और मेरी नजर उस सेक्सी बदन से हटने को बिल्कुल भी तैयार नहीं थी। में उनसे बात करने के नये नये मौके ढूंढता रहता था। फिर कुछ दिन बाद हमारी बात शुरू हो गई थी, लेकिन बस हाए हैल्लो ही थी और फिर धीरे धीरे हम एक दूसरे से बहुत करीब आने लगे और अब हम फोन पर भी बाते करने लगे वो।

अपने घर पर जब भी अकेली रहती तो मुझसे दिन रात बातें किया करती थी हमें अब एक दूसरे से बात किए बिना अच्छा नहीं लगता था, जिसकी वजह से हम एक दूसरे के बहुत करीब हो गये थे। एक दिन रात को उसने मुझे सेक्सी फिल्म भेजी और फिर कहा कि मयंक इसे देखो यह बहुत मस्त है, तो मैंने पूछा कि यह क्या है?

तब उसने मुझसे कहा कि जब भी तू सेक्स करता है इसको देख लेना। यह बहुत मस्त सेक्सी फिल्म है, वैसे दोस्तों में पिछले कुछ सालों से अन्तर्वासना स्टोरी डॉट कॉम पर सेक्सी कहानियाँ पढता आ रहा हूँ, इसलिए मेरे दिमाग में भाभी को अपनी तरफ आकर्षित करने के बहुत सारे तरीके थेl

लेकिन जब मैंने उनके मुहं से सेक्सी फिल्म वाली बात सुनी तो में बहुत चकित हुआ और मैंने कभी सोचा भी नहीं था कि वो भाभी इतनी जल्दी मुझसे यह सभी बातें करने लगेगी, वो अपने चेहरे से कुछ और बातों से कुछ और थी। फिर उन्होंने मुझसे कहा कि तू इससे अपनी गर्लफ्रेंड को खुश किया कर, तुम दोनों को बहुत मज़ा आएगा।

अब मैंने भाभी से बोला कि जी मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है फिर में खुश किसको करूंगा? तो वो बोली कि अच्छा कोई बात नहीं है तुझे कोई अच्छी सी लड़की मिल ही जाएगी, क्योंकि तू इतना स्मार्ट है, लंबा गोरा है। तभी मैंने बोला कि नहीं मेरी किस्मत में ऐसा नहीं है इसलिए में अब तक अकेला ही हूँ और उसके बाद हम धीरे धीरे अच्छे से बातें करने लगे और अब हम एक दूसरे से पूरी तरह खुलकर सेक्स की बातें भी करने लगे थे।

अब मैंने उससे कहा कि तुम्हारा काम तो एकदम सही है जब मन करे तब अपने पति के साथ कर लो, वो बोली हाँ यार में तो अब करते करते बोर हो गई, एक दो दिन में तो हो ही जाता है और वही सब हमेशा एक जैसा। फिर मैंने बोला कि शादी करी है तो सब एक जैसा ही होगा ना नया थोड़ी मिलेगा। फिर वो बोली हाँ क्योंकि में इतनी गंदी जो हूँ इसलिए कोई नहीं मिलेगा। आप यह कहानी अन्तर्वासना स्टोरी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है l

फिर मैंने कहा कि नहीं तुम तो बहुत सुंदर हो फिर वो बोली में क्या तुझे अच्छी नहीं लगी? मैंने बोला कि भाभी आप यह कैसी बात कर रहे हो? आप तो बहुत अच्छे हो, लेकिन क्या फ़ायदा अब आपकी शादी हो गयी है और अब आप उसमे ही खुश रहो। तभी भाभी मुझसे पूछने लगी क्यों क्या कभी तेरा वो सब करने का मन नहीं करता?

तो मैंने बोला कि हाँ करता है ना तो भाभी पूछने लगी कि फिर तू क्या करता है? मैंने कहा कि या तो में अपने आप पर कंट्रोल करता हूँ या फिर पॉर्न फिल्म देखकर हिला लेता हूँ और अपने आप को शांत कर लेता हूँ। तभी भाभी बोली कि सच में जो मज़ा है वो पॉर्न फिल्म में नहीं है। अब तो तू सही में कर और वैसे भी तू अब 23 साल का हो गया है।

फिर मैंने बोला कि हाँ जब मुझे मौका मिलेगा तब कर लूँगा और उसके बाद हम दोनों इधर उधर की बातें करके सो गये और कुछ दिनों के बाद भाभी अकेली थी और भैया उस समय दो दिन के लिए अपने ऑफिस के किसी काम से कहीं बाहर गये हुए थे।

कहानी जारी है ….. आगे की कहानी पढने के लिए निचे लिखे पेज नंबर पर क्लिक करे …..

Pages: 1 2 3

Terms of service | Privacy PolicyContent removal (Report Illegal Content) | Feedback