Category: जवान चूत

मेरी लंबी सी चुत चटवानी हैं

प्यारे पाठको मै आज पहली बार अपनी सील तोड़ने की स्टोरी लिख रही हूँ अगर लिखने में कोई गलती हो गयी हो तो प्लीज मुझे माफ़ कर देना वैसे यह बात उस समय की...

मखमली चुत को चाट के झड़ाया

में झटके पर झटके मार रहा था और वो फक मी बेबी, ऑश यअहह फक मी जान कह रही थी। फिर 10 मिनिट की चुदाई के बाद मे वो झड़ गयी और जब वो झड़ रही थी तो उसका बदन देखने लायक था, पूरे शरीर मे कम्पन सा हो रहा था और वो बँधी हुई शेरनी की तरह छटपटा रही थी

जीभ को लग गया चूत का चस्का

मैंने उसके एक बूब्स को एक हाथ में लिया और दूसरा हाथ उसकी पेंटी में डाल दिया और उसकी चूत को पहली बार छूकर देखा. मेरे छूते ही वो बिल्कुल पागल हो गयी और उसने एकदम से पलटकर मुझे बिल्कुल टाईट पकड़ लिया और मुझे लिप किस करने लगी और सिसकियाँ लेने लगी.मुझे पता चल चुका था कि अब सब कुछ मेरे हाथ में या मेरे लंड में है. में उसकी चूत को पेंटी के अंदर ही बार बार छू रहा था और धीरे धीरे सहला रहा था

फूफा के लंड से चुदने का सुरूर

मैंने जैसे ही उसकी चूची देखी तो में दंग रह गया, वो इतनी गोरी थी कि प्रीति ज़िंटा भी उसके आगे कुछ नहीं थी। अब उसकी चूची तनी हुई थी, फिर मैंने हल्के से उसकी चूची को अपने होठों से चूमा और अपने एक हाथ से उसकी स्कर्ट उतारकर उसकी पेंटी पर अपना हाथ फैरा अब वो मौन कर रही थी अयाया फुफाजी ये क्या कर रहे है

टाईट कुर्ती में करती बूब्स फाइट

टाईट कुर्ती में करती बूब्स फाइट, उंगली मेरी चूत की बीच की जगह में घुसा दी और मेरे दाने को सहलाने लगे.. मेरी चूत अपने आप गीली हो गई.. जिससे में मस्त हो रही थी। फिर मैंने अपनी जांघे और खोल दी.. मौसा जी का इस तरह मेरे चूत के दाने को रगड़ना मुझे पागल कर रहा था.. इसका सबूत था मेरी चूत.. जो नल की तरह पानी छोड़ रही थी

क्या आज मुझे मार ही डालोगे क्या

मैंने पहले एक उंगली डाली और फिर दो उंगलियों से करने लगा था। अब मुझे उसकी आवाज आ रही थी ऊफ में मर गयी, आआआ, उम्म्म्म, क्या आज मुझे मार ही डालोगे क्या ? अब में ज़ोर-ज़ोर से उसकी चूत मसल रहा था |