Author: महेश कुमार

चुदाई की प्यास मे रिश्ते मैं भूल गया-1

बहन को पीछे से पकड़ के सोफे पर लिटा दिया और उन पर चढ़ कर उन्हें बेतहाशा चूमने लगा.. वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थीं। मैं इस दौरान अपना लण्ड उनकी चूत पर रगड़ रहा था और क्या बताऊँ दोस्तो.. तभी वो वक्त आ गया.. जिसका मुझे शिद्दत से इंतजार था। उन्होंने खुद मेरा लण्ड पकड़ कर अपनी चूत के दरवाजे पर रख दिया, मैंने भी देर न करते हुए धीरे से अपना सुपारा अन्दर घुसा दिया।इस दौरान उन्होंने अपने आपको थोड़ा एडजस्ट किया.. जिससे उनकी चूत थोड़ा और खुल गई।

माँ और उनके बाद मामी दोनों की चूत लिया

मामी के लिप पर किस कर दिया और लिप पर काट लिया। तो मामी बोली अबे हरामी मामी को किस करते-करते काटता है। फिर मैंने उनके बूब्स दबाने चालू कर दिए। मैंने कभी मामी को उस नज़र से नहीं देखा था, लेकिन मामी ने मुझे ललकार कर उन्हें चोदने के लिए उकसाया। फिर मैंने मामी के सारे कपड़े उतार कर फेंक दिए और अब मामी मेरे सामने पूरी नंगी थी

चाचा चाची की लाइव चुदाई का प्रोग्राम

चाचा चाची की लाइव चुदाई का प्रोग्राम मजेदार था चाची के खुले हुए बूब्स और चूतड़ देखकर दंग रह गया था और उनकी चुदाई को देखता रहा और मूठ मारकर अपने आपको शांत किया। फिर सुबह जब में चाची के घर गया तो उस समय चाची नहाने जा रही थी। फिर मैंने उनसे पूछा कि क्या में आपको नहाते हुए देख सकता हूँ

मेरी सगी साली की चूत बीवी से पहले चोदी

मेरी सगी साली की चूत बीवी से पहले चोदी मेरी साली मेरी बीवी से बड़ी थी उनकी शादी हो चुकी है और मेरी शादी नहीं हुयी है तभी मैंने अपनी साली को चोद दिया और मस्त चुदाई किया आप भी पढ़ कर मज़ा लो |